चलती ट्रेन में चोरी करने वाला 12 लाख के गहनों सहित पकड़ाया

भोपाल। ट्रेनों में बेग लिफ्टिंग करने वाले अंतरराज्यीय चोर को एमपी जीआरपी ने गिरफ़्तार करने में सफलता हासिल की है। जीआरपी ने गिरफ्तार में आये आरोपी से करीब 12 लाख रुपये का चोरी का माल भी बरामद किया है। बताया गया है की जीआरपी थाना उज्जैन में रिटायर्ड आर्मी डॉक्टर दीपक रोपरे ने शिक़ायत दर्ज कराई थी,  जिसकी जांच के आधार पर जीआरपी ने चोरी करने वाले एक आरोपी को पटना से गिरफ्तार कर लियाहै। एडीजी रेल अरुणा मोहन राव ने मीडिया से चर्चा करते हुए बतया की बलसाड़ पूरी एक्सप्रेस एबी1 कोच में रिटायर्ड आर्मी डॉक्टर दीपक रोपरे अपने परिवार के साथ सफर कर रहे थे: तब उनकी पत्नी का बैग सोते समय चोरी हो गया जिसमें 12 लाख रुपये के जेवरात समेत मोबाइल फ़ोन था। शिकायत के बाद पुलिस ने टीम ने रेलवे स्टेशन पर लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाले तो कुछ भी हाथ नहीं लगा जिसके बाद पुलिस ने चोरी हुए मोबाइल की लोकेशन के आधार पर पटना से राजू मिस्त्री नाम के व्यक्ति को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने चोरी की वारदात करना कबूल किया। जिसके बाद जीआरपी ने उसकी निशानदेही पर डॉक्टर दंपति का चोरी हुआ माल बरामद कर आरोपी राजू मिस्त्री को गिरफ्तार कर लिया है। अतिरिक्‍त पुलिस महानिदेशक रेल अरूणा मोहन राव ने खूलासा करते हुए बताया कि गत 15 मार्च को बलसाड़-पुरी एक्‍सप्रेस में अशोक नगर ईस्‍ट भुवनेश्‍वर उड़ीसा निवासी डॉ. दीपक रोपरे व उनकी धर्मपत्‍नी श्रीमती तनूजा रोपरे बड़ौदा से भुवनेश्‍वर की यात्रा पर थे। इस ट्रेन के ए-1 कोच की बर्थ नंबर 43 पर यात्रा कर रहीं तनूजा रोपरे की जब उज्‍जैन से 15 मिनट पहले नींद खुली तो उनका पर्स गायब था, जिसमें लगभग 12 लाख रूपये कीमत के गहने और उनका सेलफोन रखा था। डॉ दीपक रोपरे ने इस घटना की रिपोर्ट उज्‍जैन जीआरपी थाने में दर्ज कराई थी। रेलवे पुलिस ने इस मामले को गंभीरता लेते हुए सीसीटीवी फुटेज आदि के आधार पर आरोपी की सुरागशी मे जुट गई। साथ ही चोरी गए मोबाईल फोन की लोकेशन के आधार पर एक टीम पटना बिहार के लिए रवाना की। रेलवे पुलिस की इस टीम द्वारा बिहार में सीडीआर के आधार पर संदेही राजू मिस्‍त्री को पकड़ा। कड़ाई से पूछताछ की जाने पर उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया। पूछताछ के आधार पर आरोपी द्वारा एक अलमारी में छुपाकर रखा गया सोने का हार, मंगलसूत्र, महिला व पुरूषों की अंगूठियां, दो जोड़ी सोने के टॉप्‍स, एक मोतियों का हार, सोने की चेन तथा अन्‍य आभूषण पुलिस ने बरामद कर लिए। इसके बाद आरोपी की निशानदेही पर फ्रीगंज ब्रिज के समीप रेल पटरी के किनारे गड्डे में एक नीले रंग की पॉलीथिन में छुपाकर रखे गए गहने भी पुलिस ने जब्‍त कर लिए। इस पॉलीथिन में दो मंगलसूत्र, एक मोती का हार, पीली धातू के सोने जैसे टॉप्‍स तथा अन्‍य गहने पाए गए। इस प्रकार रेलवे पुलिस ने लगभग 11 लाख 92 हजार रूपये कीमत के जेबरात बरामद कर लिए हैं। पुलिस आरोपी से चोरी की अन्य वारदातो के बारे मे भी पूछताछ कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *