संघ खफा-मोदी सरकार से सवाल -युद्ध के बिना सैनिक शहीद क्यों हो रहे: भागवत

नागपुर. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने गुरुवार को सरकार से नाराजगी जाहिर की। नागपुर में एक कार्यक्रम में संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि देश में कोई युद्ध नहीं चल रहा फिर भी सीमाओं पर सैनिक शहीद हो रहे हैं। इसका कारण यह है कि हम अपना काम ठीक से नहीं कर पा रहे। हमें इसी को सही करना है। वहीं प्रयागराज में सरकार्यवाह भैयाजी जोशी ने कहा कि अयोध्या में मंदिर का निर्माण 2025 में ही शुरू हो पाएगा।

 

‘देश के लिए जीना सीखना होगा’

  1. भागवत ने कहा- अपने देश के लिए मरने का समय तब था, जब स्वतंत्रता नहीं थी। अब आजादी के बाद सीमाओं पर अपने देश के लिए मरने का समय तब होता है जब युद्ध होता है। देश को बड़ा बनाना है तो देश के लिए जीना सीखना होगा।
  2. संघ प्रमुख के मुताबिक- किसी देश से लड़ाई हुई तो पूरे समाज को लड़ना पड़ता है। सीमाओं पर सैनिकों को भेजा जाता है। सबसे ज्यादा खतरा भी वे ही लोग मोल लेते हैं। खतरा मोल लेने के बाद उनकी (सैनिकों की) हिम्मत कायम रहे, अगर किसी का बलिदान हो गया तो उसके परिवार को कमी न हो, ये चिंता समाज को करनी पड़ेगी।
  3. मोहन भागवत ने यह भी कहा कि हर किसी को प्रयास करना होगा। यह ऐसा कुछ नहीं है जिसके लिए हम किसी को कॉन्ट्रैक्ट दे सकते हैं। हम बस यही सोचते हैं कि सरकार यह करेगी, पुलिस यह करेगी, सेना यह करेगी, लेकिन यह ऐसा नहीं है। पूरे समाज को कोशिशें करनी होंगी।
  4. उन्होंने कहा- देश में नीतियां हर किसी को प्रभावित करती हैं। न तो मैं नीति बनाता हूं और न ही आप, लेकिन हम सभी पर इसका असर पड़ता है। महंगाई बढ़ी, लेकिन न तो मैंने इसे बढ़ाया और न ही आपने, लेकिन इसे हम सभी को भुगतना पड़ा। बेरोजगारी बढ़ी, लेकिन इसे भी न तो मैंने बढ़ाया और न ही आपने, लेकिन हम सब पर इसका असर पड़ा। इसीलिए हमें अपने देश के लिए जीना सीखना होगा।
  5. 2025 में होगा राम मंदिर का निर्माण: भैयाजी जोशी

    भैयाजी जोशी ने कुंभ मेले में आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि मोदी सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि राम मंदिर 2025 में बनेगा। उन्होंने कहा कि अयोध्या में साल 2025 में जब राम मंदिर का निर्माण शुरू हो जाएगा तो देश तेजी से विकास करने लगेगा। जोशी ने कहा कि देश में विकास की गति उसी तरह बढ़ेगी, जैसे 1952 में सोमनाथ में मंदिर निर्माण के बाद शुरू हुई थी। अयोध्या के मंदिर निर्माण के बाद देश अगले 150 साल के लिए पूंजी प्राप्त कर लेगा।

  6. बाद में सफाई देते हुए भैयाजी ने कहा कि हमारी इच्छा है कि मंदिर निर्माण 2025 तक पूरा होना चाहिए। अब तय सरकार को करना है। 2025 से मंदिर निर्माण शुरू करने की बात नहीं है। अगर अभी से मंदिर बनना शुरू होता है तभी 5 साल में बनेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *