मध्यप्रदेश/ हार पर भाजपा में घमासान, नेता बोले- जनादेश ही नहीं मिला तो आभार यात्रा क्यों हो?

खबर 30 दिन/बीबीसी लाइव मध्यप्रदेश-

  • संभागीय स्तर पर हो रही समीक्षा बैठक
  • नेता एक-दूसरे पर खुलकर लगा रहे आरोप

भोपाल. विधानसभा चुनाव में मिली हार के बाद भाजपा के भीतर घमासान शुरू हो गया है। संभागीय स्तर पर हो रही समीक्षा बैठकों में नेता एक-दूसरे पर खुलकर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं। शनिवार को पार्टी दफ्तर में भोपाल व होशंगाबाद संभाग की बैठक हुई, जिसमें पूर्व सांसद रघुनंदन शर्मा ने सीधे तौर पर कटाक्ष कर दिया कि जब जनादेश ही नहीं मिला तो आभार यात्रा किसलिए? इसका अब क्या मतलब? यहां बता दें कि पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यह आभार यात्रा निकालने की बात कही थी। रघुनंदन यहीं नहीं रुके। संभाग प्रभारी व विधायक अरविंद भदौरिया व संगठन मंत्री आशुतोष तिवारी की मौजूदगी में तमाम नेताओं ने खुलकर हार के कारणों को गिनाया।

जमकर बरसे नेता –

पूर्व सांसद रघुनंदन शर्मा : हम जैसों को चुनाव में पूछा तक नहीं गया। राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल ने एक दिन फोन किया और संतों को मनाने का काम दिया। मैं और माखन सिंह संतों से मिले और चित्रकूट तक गए। लौटे तो किसी ने रिपोर्ट तक नहीं ली। शर्मा को बोलने से रोका गया तो वे बोले- अब भी नहीं कहेंगे तो कहां कहें?

पूर्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता के चुनाव संचालक रामदयाल प्रजापति : चुनाव के दौरान जो ऑडियो (विधायक रामेश्वर शर्मा से जुड़ा) आया था, जिसकी वजह से हार हुई। उसके खिलाफ क्या कार्रवाई होगी? इस पर भदौरिया ने कहा लिखित में दो। मामला गंभीर है। संगठन के भी संज्ञान में है। ऑडियो की जांच भी करा लें।

पूर्व विधायक रमेश शर्मा : सर्वे के आधार पर टिकट ही नहीं बंटे तो फिर सर्वे क्यों कराए गए?
पर्यटन निगम के पूर्व अध्यक्ष तपन भौमिक : एट्रोसिटी, किसानों की नाराजगी और कर्जमाफी के साथ माई के लाल वाले जैसे बयानों से नुकसान हुआ।

कमलनाथ, सिंधिया और भूरिया की सीटों पर नजर :
केंद्र से मिले कार्यक्रमों के अनुसार भाजपा अब कमलनाथ की छिंदवाड़ा, ज्योतिरादित्य सिंधिया की गुना और कांतिलाल भूरिया की रतलाम संसदीय सीट पर फोकस करेगी। राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने प्रदेश को कार्यक्रम भेजा है कि क्लस्टर बनाकर इस पर काम करें। जिन सीटों पर भाजपा को बढ़त मिलती है, उनपर भी नजर रखी जाए। बैठक में भदौरिया ने कई कार्यक्रम भी बताए। इनमें पहला वोट-मोदी को दो, हर बूथ-दस यूथ, युवा टोली का गठन, किसान कुंभ अभियान, गौरव यात्राएं, नुक्कड नाटक, कमल संदेश मोटर साइकिल रैली, युवा संसद, ऑनलाइन प्रतियोगिता समेत कई कार्यक्रम जनवरी से फरवरी के बीच चलेंगे।

एडिट बाय-अब्दुल सलाम क़ादरी 9424257566

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *